कांग्रेस का मीडिया प्रबंधन, जयराम बिना समय खोए प्रहार करते हैं...

कांग्रेस का मीडिया प्रबंधन, जयराम बिना समय खोए प्रहार करते हैं...

कांग्रेस का मीडिया प्रबंधन, जयराम बिना समय खोए प्रहार करते हैं...

कांग्रेस का मीडिया प्रबंधन, जयराम बिना समय खोए प्रहार करते हैं। लेखक: डॉ. प्रदीप चतुर्वेदी

जयराम रमेश ने कांग्रेस की मीडिया टीम की चाल-ढाल बदल दी है। हर आदमी इसे महसूस कर रहा है और सोशल मीडिया पर इसकी चर्चा भी कर रहा है।

ऐसा नहीं है कि वे कहीं मंगल ग्रह से लोग लेकर आए हैं। पुराने ही लोगों की टीम में फेरबदल करके उन्होंने मीडिया टीम में जान फूंक दी है। रमेश की सबसे खास बात यह है कि उन्होंने रियल टाइम में रिस्पांस देने का सिस्टम बनाया है।

बाकी बातें अपनी जगह हैं लेकिन रियल टाइम रिस्पांस का फायदा यह हुआ है कि सोशल मीडिया या पारंपरिक मीडिया के जरिए प्रचारित किया जाने वाला झूठ तत्काल पकड़ में आ रहा है और कांग्रेस के प्रवक्ताओं व नेताओं को सचाई बताने में आसानी हो रही है।

रविवार को अंग्रेजी अखबार ‘इंडियन एक्सप्रेस’ के एक कॉलम में खबर छपी कि राहुल गांधी ने अन्ना डीएमके नेता ई पलानीस्वामी को फोन किया था और राष्ट्रपति पद के विपक्षी उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के लिए समर्थन मांगा।

इस खबर में यह भी कहा गया कि इससे कांग्रेस की सहयोगी डीएमके के नेता अपसेट हैं। खबर सामने आते ही कांग्रेस के मीडिया प्रभारी जयराम रमेश ने इसका खंडन जारी किया और इसे पूरी तरह बेबुनियाद बताते हुए इसे खारिज किया। खबर आगे फैले उससे पहले ही कांग्रेस ने इसे दबा दिया।

इसी तरह वायनाड में अपने कार्यालय पर हमला करने वाले छात्रों को बच्चा बता कर राहुल ने उन्हें माफ करने का जो बयान दिया था उसे उदयपुर के हत्यारों के साथ जोड़ कर चलाने की खबर का भी कांग्रेस ने तत्काल विरोध किया।

इसका नतीजा यह हुआ कि खबर चलाने वाले चैनल ‘जी न्यूज’ को माफी मांगनी पड़ी। इसके बावजूद कांग्रेस ने चैनल और खबर को ट्विट करने वाले नेताओं के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया है। रमेश ने इस सिलसिले में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को चिट्ठी भी लिखी।


For More Updates Visit Our Facebook Page

Follow us on Instagram | Also Visit Our YouTube Channel

कांग्रेस का मीडिया प्रबंधन, जयराम बिना समय खोए प्रहार करते हैं...

और पढ़ें