नई दिल्ली भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी के राम मंदिर आयोजन की टाइमिंग पर सवाल, पीएम मोदी पर लगाया ये आरोप

भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी के राम मंदिर आयोजन की टाइमिंग पर सवाल, पीएम मोदी पर लगाया ये आरोप

भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी के राम मंदिर आयोजन की टाइमिंग पर सवाल, पीएम मोदी पर लगाया ये आरोप

नई दिल्ली।

एक ओर जहां देशभर में अयोध्या में राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा को लेकर खासा उत्साह देखा जा रहा है, वहीं दूसरी ओर इस मामले में राजनीति भी तेज हो गई है। कांग्रेस पहले से ही इस आयोजन की टाइमिंग को लेकर केंद्र सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस के अलावा शंकराचार्यों ने भी आयोजन के समय को लेकर सवाल खड़े किए हैं। अब इस मामले में भाजपा नेता और पूर्व कानून मंत्री सुब्रमण्यम स्वामी ने सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है।

उन्होंने एक्स पर एक पोस्ट के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने लिखा कि पीएम मोदी ने सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि मामले में देरी करने की कोशिश की। उन्होंने लिखा कि जब मामला निष्कर्ष के करीब था, तब केंद्र सरकार ने अयोध्या की सभी भूमि को वापस करने के लिए एक आवेदन दायर किया, जिसे पीवी नरसिम्हा राव की सरकार ने राष्ट्रीयकृत कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट को इस बात को नजरअंदाज कर फैसला देने के लिए धन्यवाद देना चाहिए। सीजेआई गोगोई और 4 अन्य जजों को धन्यवाद। उन्होंने लिखा कि यह सीजेआई केहर सिंह ही थे जिन्होंने प्रार्थना करने के मेरे मौलिक अधिकार के तर्क के केंद्रीय महत्व को देखा। उन्होंने मेरी याचिका एससी बेंच को सौंपी और सभी याचिकाओं पर सुनवाई करने का निर्देश दिया।

बता दें सुब्रमण्यम स्वामी हाल के वर्षों में भारत के अंदर रहते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सबसे बड़े आलोचक रहे हैं। वे उनकी आलोचना का कोई मौका नहीं छोड़ते हैं। पीएम मोदी की आर्थिक नीतियां खासतौर से स्वामी की आलोचनाओं के केंद्र में रही हैं।

और पढ़ें