rajasthan jaipur डोटासरा की तीखी टिप्पणी: दिलावर 'दिमागी रूप से बीमार', आदिवासी पहचान पर विवाद

डोटासरा की तीखी टिप्पणी: दिलावर 'दिमागी रूप से बीमार', आदिवासी पहचान पर विवाद

डोटासरा की तीखी टिप्पणी: दिलावर 'दिमागी रूप से बीमार', आदिवासी पहचान पर विवाद

जयपुर। राजस्थान में आदिवासी समुदाय की धार्मिक पहचान पर सियासत तेज हो गई है। बांसवाड़ा के नवनिर्वाचित सांसद राजकुमार रोत के आदिवासियों को हिंदू नहीं मानने के बयान ने विवाद को जन्म दिया है। राजकुमार रोत, जो भारत आदिवासी पार्टी (बाप) से हैं, ने कहा था कि आदिवासी हिंदू नहीं हैं, जिससे राजनीतिक माहौल गर्म हो गया है। 

शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने रोत के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को हल करने के लिए पूर्वजों की वंशावली से जानकारी ली जाएगी और आवश्यकता पड़ने पर डीएनए जांच भी करवाई जाएगी।कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने शिक्षा मंत्री पर पलटवार करते हुए कहा कि उनके बयानों में बार-बार बौद्धिक दिव्यांगता झलक रही है। राजस्थान में आदिवासी समुदाय की पहचान पर चल रहे इस विवाद ने सियासी तापमान बढ़ा दिया है, जिससे राज्य की राजनीति में नई हलचल पैदा हो गई है।

 सांसद राजकुमार रोत ने आदिवासी बताते हुए कहा, "हिंदू नहीं हैं, हिंदू धर्म को नहीं मानते": राजस्थान की राजनीति में बांसवाड़ा लोकसभा सीट से विजयी हुए 'बाप' के नवनिर्वाचित सांसद राजकुमार रोत ने अपने एक बयान से विवाद उत्पन्न कर दिया है। राजकुमार रोत ने 9 जून को एक मीडिया संस्थान से हुई बातचीत के दौरान खुद को आदिवासी बताते हुए कहा कि वे हिंदू नहीं हैं और हिंदू धर्म को नहीं मानते। इसके बाद सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल किया गया और उनके इस बयान ने विवाद को और तेज़ कर दिया।

उनके बयान के बाद, राजकुमार रोत पर शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने कड़ी टिप्पणी की है। दिलावर ने कहा कि देश और समाज को विभाजित करने वाली गतिविधियों को किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि अगर राजकुमार रोत हिंदू नहीं हैं तो उनके धर्म की जांच कराई जाएगी। वो उनके पूर्वजों से वंशावली लिखने वाले लोगों से पूछेंगे कि वे क्या हैं। राजकुमार रोत के बयान ने सियासी माहौल में बड़ा हंगामा मचा दिया है और उनके इस बयान का विवाद स्पष्ट रूप से समाज में गहरे विचारों को उत्पन्न कर रहा है।

डोटासरा ने मदन दिलावर को बताया  'दिमागी रूप से बीमार': राजस्थान के कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक पोस्ट कर मंत्री मदन दिलावर को बताया "दिमागी रूप से बीमार". इसके बाद उन्होंने मदन दिलावर के बयान को भी निंदा करते हुए कहा कि उनके बयानों में बार-बार बौद्धिक दिव्यांगता झलक रही है। 

गोविंद सिंह डोटासरा ने दिलावर का बयान अत्यंत निंदनीय बताया और कहा कि आदिवासी समाज के डीएनए (DNA) को लेकर उनके बयानों का पूरा समर्थन नहीं किया जा सकता।इसके अलावा, उन्होंने डिमांगियों के सम्मान की मांग की है और कहा है कि ऐसे व्यक्तिगत हमलों से दिमागी रूप से दिव्यांग व्यक्तियों को बेहद आहती पहुंचती है।

और पढ़ें