जयपुर आरएएस मुख्य परीक्षा के अभ्यर्थियों को अब कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा से मिला ये आश्वासन

आरएएस मुख्य परीक्षा के अभ्यर्थियों को अब कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा से मिला ये आश्वासन

आरएएस मुख्य परीक्षा के अभ्यर्थियों को अब कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल मीणा से मिला ये आश्वासन

जयपुर।

राजस्थान में सरकारी सेवाओं से जुड़ी सबसे बड़ी आरएएस भर्ती परीक्षा को लेकर अभ्यर्थियों का विरोध प्रदर्शन थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। अभ्यर्थी अलग-अलग माध्यमों से सरकार तक अपनी बात पहुंचाने की कोशिश कर आरएएस मुख्य परीक्षा की तारीख आगे बढ़वाने में लगे हैं। इसके लिए ये अभ्यर्थी एक तरफ तो जयपुर में राजस्थान यूनिवर्सिटी के सामने गेट पर ही धरना दे रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ नेताओं और सरकार में मंत्रियों से मुलाकात भी कर रहे हैं।

अब आज कुछ अभ्यर्थी राजस्थान विधानसभा के गेट पर पहुंच गए। यहां सरकार के तमाम मंत्री और विधायक एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला में भाग लेने आए थे। यहां इन अभ्यर्थियों ने प्रदेश के कैबिनेट मंत्री डॉ. किरोड़ी लाल मीणा से मुलाकात की और अपनी मांग फिर से मीणा के सामने दोहराई। इस पर मीणा ने भी आंदोलनरत अभ्यर्थियों को निराश नहीं करते हुए मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा से इस संबंध में बात कर मांग पूरी करवाने का आश्वासन दिया।

ऐसे में माना जा रहा है कि सरकार राजस्थान विधानसभा चुनाव से ठीक पहले आरएएस मुख्य परीक्षा की तारीख में बदलाव कर सकती है। बता दें राजस्थान विधानसभा में 19 जनवरी से सत्र शुरू होने जा रहा है, जबकि आगामी 27 और 28 जनवरी को इस परीक्षा का आयोजन किया है। ऐसे में अब जब परीक्षा में लगभग 10 दिन का ही समय बाकी रह गया है, उसके बावजूद अभ्यर्थी परीक्षा की तैयारी करने की बजाय परीक्षा की तारीख आगे बढ़ाने की मांग कर रहे हैं।

उनका कहना है कि आरएएस प्री परीक्षा 1 अक्टूबर 2023 को आयोजित की गई थी। ऐसे में मुख्य परीक्षा के लिए महज 3 ही महीने का समय मिला है, जो कि पर्याप्त नहीं है। वहीं मुख्य परीक्षा के अभ्यर्थियों में से कुछ ऐसे भी हैं जो वर्तमान में किसी सरकारी विभाग में कार्यरत हैं और उनकी राजस्थान विधानसभा में ड्यूटी लगी थी। इसलिए भी उन्हें परीक्षा की तैयारी का समय नहीं मिल पाया। इसलिए परीक्षा की तारीख आगे बढ़ाते हुए अभ्यर्थियों को कम से कम 6 महीने का समय दिया जाना चाहिए।

और पढ़ें