new delhi, india, bharat अमरनाथ यात्रा की औपचारिक शुरुआत के लिए की गई ‘प्रथम पूजा’, 52 दिन चलेगी यात्रा

अमरनाथ यात्रा की औपचारिक शुरुआत के लिए की गई ‘प्रथम पूजा’, 52 दिन चलेगी यात्रा

अमरनाथ यात्रा की औपचारिक शुरुआत के लिए की गई ‘प्रथम पूजा’, 52 दिन चलेगी यात्रा

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के प्रमुख तीर्थ स्थल में शनिवार को श्री अमरनाथ जी यात्रा का उपचारिक शुभारंभ श्री अमरनाथ गुफा में प्रथम पूजा के साथ हुआ। यहां, श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) के अध्यक्ष और जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने आधिकारिक रूप से अद्वितीय पूजन किया, जिसमें उन्होंने बाबा अमरनाथ जी के आशीर्वाद का लाभ लिया और समस्त देशवासियों के लिए शुभकामनाएं प्रार्थना की। इस साल की यात्रा, जो 52 दिन तक चलेगी, 19 अगस्त को रक्षाबंधन और श्रावणी पूर्णिमा के साथ समाप्त होगी। लाखों श्रद्धालु इस धार्मिक यात्रा में शामिल होते हैं, जो अपने आध्यात्मिक संवाददाताओं से मिलने के लिए इसे पसंद करते हैं।  इस वर्ष की अमरनाथ यात्रा ने राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर धार्मिक परंपरा को बढ़ावा दिया है, और यह भारतीय संस्कृति और पर्यटन के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण घटना है।

समुद्र तल से 3,888 मीटर ऊपर स्थित है गुफा मंदिर: मनोज सिन्हा ने कहा कि कश्मीर हिमालय में समुद्र तल से 3,888 मीटर ऊपर स्थित गुफा मंदिर की पवित्र तीर्थयात्रा हमेशा सांप्रदायिक सद्भाव का प्रतीक रही है क्योंकि स्थानीय मुसलमान यात्रियों को गुफा मंदिर तक पहुंचने में मदद करते हैं। एक अन्य बयान में उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर की प्राचीन परंपरा रही है कि सभी समुदायों के लोग इस यात्रा में भाग लेते हैं, चाहे उनका धर्म कुछ भी हो। मैं सभी नागरिकों से आग्रह करता हूं कि वे देश और विदेश के विभिन्न हिस्सों से आने वाले तीर्थयात्रियों का स्वागत और सेवा करने के लिए एक साथ आएं।

29 जून से शुरू होगी यात्रा: यात्रियों के लिए एसएएसबी द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली सुविधाओं पर बात करते हुए उपराज्यपाल ने कहा, श्री अमरनाथ जी श्राइन बोर्ड और संबंधित विभागों के अधिकारी तीर्थयात्रियों के लिए बेहतर सुविधाएं और सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। हम यह सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव उपाय कर रहे हैं कि यात्रा सुचारू, सुरक्षित और परेशानी मुक्त हो। हमने श्रद्धालुओं के लिए आवश्यक सुविधाओं, बुनियादी ढांचे और सुरक्षा में उल्लेखनीय वृद्धि की है। इस साल यात्रा 29 जून से शुरू होगी।

और पढ़ें