up, india ताजमहल पर पहली बार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र: सैलानियों की सेहत का पूरा ख्याल

ताजमहल पर पहली बार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र: सैलानियों की सेहत का पूरा ख्याल

ताजमहल पर पहली बार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र: सैलानियों की सेहत का पूरा ख्याल

आगरा। विश्व प्रसिद्ध ताजमहल का दीदार करने आने वाले सैलानियों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। अब उनकी सेहत का ध्यान रखते हुए ताजमहल परिसर में पहली बार एक अत्याधुनिक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोला जा रहा है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) और स्वास्थ्य विभाग की इस संयुक्त पहल से ताजमहल घूमने आने वाले लाखों पर्यटकों को राहत मिलेगी।

आपातकालीन सुविधाओं से लैस: इस स्वास्थ्य केंद्र में कुत्ता, बंदर, सांप या बिच्छू के काटने पर तत्काल इलाज की सुविधा उपलब्ध होगी। एएसआई ने अपने तीन कक्ष देने पर सहमति जताई है, जिसमें आपातकालीन चिकित्सा सेवाओं के साथ-साथ डॉक्टर्स और पैरामेडिकल स्टाफ भी तैनात रहेंगे। गंभीर हालत वाले मरीजों के लिए भर्ती की व्यवस्था भी की गई है, जिससे अब पर्यटकों को इलाज के लिए दूर नहीं जाना पड़ेगा।

स्मारकों पर सुरक्षा का नया अध्याय: यह निर्णय एक महत्वपूर्ण घटना के बाद लिया गया है, जब पिछले साल 21 सितंबर को फ्रांस की पर्यटक एस्मा (60) की फतेहपुर सीकरी में रेलिंग टूटने से मौत हो गई थी। इस दुखद घटना ने स्मारकों पर स्वास्थ्य सेवाओं की कमी को उजागर किया था। अब, ताजमहल समेत अन्य ऐतिहासिक स्थलों पर भी स्वास्थ्य सेवाएं सुनिश्चित की जा रही हैं।

स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह तैयार है और ताजगंज के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को ताजमहल परिसर में स्थानांतरित करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। इस पहल से ताजमहल घूमने आने वाले सैलानियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं में महत्वपूर्ण सुधार होगा, जिससे वे इस ऐतिहासिक धरोहर का आनंद बिना किसी चिंता के ले सकेंगे।

स्वास्थ्य केंद्र की विशेषताएं: 

आपातकालीन वैक्सीन सुविधा : बंदर, कुत्ता, सांप, बिच्छू के काटने पर तत्काल वैक्सीन उपलब्ध होगी।
भर्ती की व्यवस्था : गंभीर मरीजों को भर्ती किए जाने का इंतजाम।
बेहतर सुविधाएं : तीन बेड वाले कक्ष और ओपीडी (बाह्य रोगी विभाग)।
महिला चिकित्सक की उपस्थिति : महिला पर्यटकों की सुविधा के लिए महिला चिकित्सक भी मौजूद रहेंगी।


 

और पढ़ें