पंजाबराजस्थान

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के आपत्तिजनक वीडियो के चेन को ब्रेक करने की कोशिश कर रही है RPA की उप निरीक्षक आरती सिंह तंवर

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के आपत्तिजनक वीडियो के चेन को ब्रेक करने की कोशिश कर रही है RPA की उप निरीक्षक आरती सिंह तंवर

जयपुर। पंजाब के मोहाली में स्थित चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की छात्राओं का आपत्तिजनक वीडियो वायरल होने के बाद हर तरफ अफरा तफरी मची हुई है। जहां एक तरफ लोगो द्वारा इस आपत्तिजनक वीडियो को तेजी से शेयर करने को खबरे आ रही हैं, वहीं दूसरी तरफ राजस्थान पुलिस एकेडमी में पदस्थापित उप निरीक्षक आरती सिंह तंवर इस चेन को तोड़ने की तरफ पहला कदम उठाया है।

आरती सिंह तंवर का कहना है की उस वीडियो में जितनी भी लड़कियां है वो चंडीगढ़ विश्वविद्यालय की छात्राएं होने से पहले हमारे देश की बेटी हैं और इनका सम्मान होना उनका अधिकार हैं। साथ ही उनका यह भी कहना है की यह सिर्फ एक लड़की की इज्जत की बात नही बल्कि हम सभी की इज़्ज़त और गरिमा की बात है।

एक जिम्मेदार नागरिक और पुलिस अधिकारी होने के नाते इस चेन को ब्रेक करना वो अपनी जिम्मेदारी और फर्ज मानती हैं। इन्होंने अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल्स, जहां 3 लाख से अधिक लोग इनसे जुड़े हुए है पर ये चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के लीक वीडियो को लेकर लोगो को बीच जागरूकता फैलाने की कोशिश की है। साथ ही आम जनता से ये अपील की हैं की इस वीडियो को दुसरे के पास फॉरवर्ड न करे व डिलीट कर दें।।

आरती सिंह तंवर अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल्स पर तैयारी कर रहे युवाओं से जुड़ी हुई है और हर एक दो दिन के अंतराल में उनसे बातचीत कर उनके समस्याओं का समाधान करने की कोशिश करती है। आरती सिंह तंवर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को समय समय पर पाठयकर्म, उससे जुड़ी किताबों से संबंधित मार्गदर्शन करती रहती है। इसके अलावा वो भ्रमित और हताश हुए बच्चो को प्रेरणादायक बातों से प्रेरित भी करती रहती है। साथ ही आमजन को, अपराध जगत की नवीनतम जानकारियां अपने यूट्यूब चैनल, वेबसाइट और सभी सोशल नेटवर्क पर देती है। कोई भी युवा इसका लाभ ले सकते है।

हमारे संवाददाता द्वारा जब उप निरीक्षक आरती सिंह तंवर से इस मुद्दे पर उनकी राय पूछी गई तब उन्होंने कहा की –

    " यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवताः " 

यानी की, जहाँ स्त्रियों की पूजा होती है वहाँ देवता निवास करते हैं और जहाँ स्त्रियों का सम्मान नही होता, उनकी पूजा नहीं होती, वहाँ किये गये सभी अच्छे कर्म निष्प्रभावी हो जाते हैं।

साथ ही उनका कहना है की इस तरह के साइबर क्राइम दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है। अगर आज हम इस वीडियो का समर्थन कर शेयर करेंगे तो ऐसे अपराधियों का हौसला और बढ़ता ही जाएगा जो की सरासर मानवीय मूल्यों और नैतिकता के पूर्णतः खिलाफ है। आगे उन्होंने कहा की किसी भी बड़े और प्रभावशाली बदलाव को लाने के लिए सिर्फ पुलिस या एक इंसान की नही बल्कि पूरे समाज को एक साथ आने की ज़रूरत है, उनको एक साथ जागरूक होने की ज़रूरत है। ताकि अपराधियों की हिम्मत ही न हो किसी की जिंदगी के साथ खेलने का।

आरती सिंह तंवर ने उन पीड़ित लड़कियों और सभी लड़कियों के लिए बोला है, की जब भी किसी के साथ इस तरह का साइबर अपराध होता है तो इससे डरे नहीं, घबराएं नहीं और अपने नजदीकी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करें।

आप सभी से नम्र निवेदन है की आप इस वीडियो व अन्य आपत्तिजनक वीडियो प्राप्त होने पर उन्हें डिलीट करे व उस अपराध की चेन को तोड़ कर एक जिम्मेदार नागरिक की भूमिका निभाएं।

Previous Post : गहलोत ऐसे लाएंगे देश में कांग्रेस के अच्छे दिन वापस


For More Updates Visit Our Facebook Page

Follow us on Instagram | Also Visit Our YouTube Channel

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के आपत्तिजनक वीडियो के चेन को ब्रेक करने की कोशिश कर रही है RPA की उप निरीक्षक आरती सिंह तंवर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × four =

Back to top button