गुजरातराजस्थान

राजस्थान के बेरोजगारों ने गहलोत सरकार के खिलाफ गुजरात में खोला मोर्चा

राजस्थान के बेरोजगारों ने गहलोत सरकार के खिलाफ गुजरात में खोला मोर्चा

अहमदाबाद। राजस्थान के बेरोजगारों ने गहलोत सरकार के खिलाफ गुजरात में मोर्चा खोल दिया है। राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के बेरोजगार युवाओं ने गहलोत सरकार पर उनके साथ अत्याचार करने का आरोप लगाया। बड़ी संख्या में गुजरात गए बेरोजगार युवाओं ने गुजरात चुनावों में कांग्रेस के खिलाफ प्रचार करने के लिए प्रभारी रघु शर्मा और राजस्थान मुख्यमंत्री के नाम की शपथ ली।

वे गुजरात आकर दो अक्टूबर को कांग्रेस के विरोध में पालनपुर से अहमदाबाद कांग्रेस कार्यालय तक गांधी मार्च के माध्यम से दांडी यात्रा निकालेंगे। राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ की दूसरी युवाओं की टीम पालनपुर की विधानसभाओं में घर-घर जाकर कांग्रेस के खिलाफ वोट देने की अपील के साथ उसका भरपूर विरोध करेगी। राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने कहा कि न तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात हो रही है और न ही मंत्री और अधिकारी सुन रहे हैं।

यादव ने कहा कि जब धरना प्रदर्शन करके सरकार को वादा याद दिलाते हैं तो युवा बेरोजगारों के ऊपर मुकदमे दर्ज करते हैं और लाठियां बरसाते हैं जिसकी वजह से युवाओं में आक्रोश है l उपेन यादव ने कहा कि अब युवा बेरोजगार गुजरात चुनाव में कांग्रेस नेताओं का विरोध करके सीधी टक्कर लेंगे और वोट की चोट करेंगे।

राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ राजकीय आईटीआई कॉलेजों में 1500 पदों पर कनिष्ठ अनुदेश और 2100 पदों पर पंचायतीराज जेईएन भर्ती की विज्ञप्ति जारी करने, कंप्यूटर अनुदेशक एवं पीटीआई भर्ती में 40 प्रतिशत की बाध्यता में शिथिलता देने, नई भर्तियां निकालने, रेडियोग्राफर लैब टेक्नीशियन जूनियर अकाउंटेंट, कृषि पर्यवेक्षक, एलडीसी, आरएएस, ईसीजी, एसआई, सीएचओ, सूचना सहायक, प्रोग्रामर, दंत चिकित्सक, नर्स ग्रेड 2, एएनएम फार्मासिस्ट, पशुधन सहायक, ओटी टेक्निशियन स्टेनोग्राफर एपीआरओ, पीआरओ, जलधारी, सहायक कृषि अधिकारी, सेनेटरी इंस्पेक्टर, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, कॉलेज शिक्षा में पीटीआई लाइब्रेरियन और जलदाय विभाग में नई भर्तियां निकाले जाने मांग को लेकर आंदोलन कर रहा है।

महासंघ का कहना है कि राज्य सरकार द्वारा इस बजट में एक लाख सरकारी भर्ती निकालने की घोषणा की गई थी l इसलिए राज्य सरकार एक लाख भर्तियों का विभाग वाइज भर्तियों का वर्गीकरण करके जल्द से जल्द विज्ञप्तियां जारी करे।

महासंघ लंबित भर्तियां पूरी करने, पंचायती राज एलडीसी भर्ती 2013 की नियुक्ति प्रक्रिया का कैलेंडर जारी करने, शिक्षक भर्ती 2012 में अभ्यर्थियों के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट में प्रार्थना पत्र देने, प्रयोगशाला सहायक भर्ती 2018 और पशु चिकित्सक भर्ती 2019 पूरी करने, तृतीय श्रेणी, द्वितीय श्रेणी, प्रथम श्रेणी शिक्षक भर्ती में विशेष शिक्षकों पर अधिक से अधिक निकालने, फायरमैन भर्ती जल्द से जल्द पूरी करने, सरकारी एवं प्राइवेट भर्तियों में बाहरी राज्यों के अभ्यर्थियों को रोककर प्रदेश के युवा बेरोजगारों को प्राथमिकता देने, युवा बेरोजगार आयोग बनाने, बेरोजगारी भत्ते में अनिवार्य की गई इंटर्नशिप को रद्द करने, कृषि व्याख्याता भर्ती में सभी कृषि के विषयों को शामिल करने, महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में दस हजार पदों पर बजट में शिक्षक भर्ती निकालने की घोषणा की गई थी।

इसलिए भर्ती की विज्ञप्ति जल्द से जल्द निकालने, फर्जी डिग्री, डिप्लोमा, खेल प्रमाण पत्र दिव्यांग सर्टिफिकेट के लिए सख्त कानून बनाने, 21 फरवरी 2021 को मंत्रियों से हुए लिखित समझोते की मांगों तथा लखनऊ समझौते की मांगों को जल्द से जल्द पूरा करने, तत्काल ओबीसी आरक्षण की विसंगतियां दूर करके 2018 से लेकर 2022 तक ओबीसी के अभ्यर्थियों को जितने पदों का नुकसान हुआ है उन पदों को वापस सर्जित करके सूची जारी करने, और संस्कृत विभाग रीट लेवल एक भर्ती में पदों की संख्या बढ़ाए जाने की मांग को लेकर कांग्रेस सरकार से संघर्षरत है।

Previous Post: कोटा में प्रदेश के पहले मोटर मार्केट का लोकार्पण


For More Updates Visit Our Facebook Page

Follow us on Instagram | Also Visit Our YouTube Channel

राजस्थान के बेरोजगारों ने गहलोत सरकार के खिलाफ गुजरात में खोला मोर्चा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − 2 =

Back to top button